मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

अन्तर्देशीय जलमार्गों (एन डब्ल्यू-1) द्वारा कोयले के परिवहन के लिए एनटीपीसी, आईडब्ल्यूएआई और जिंदल आईटीएफ के बीच त्रिपक्षीय समझौता

11th अगस्त, 2011

भारत के पूर्वी तट से पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में फरक्का स्थित एनटीपीसी के 2100 मेगावाट विद्युत संयंत्र तक अन्तर्देशीय जलमार्गों द्वारा कोयले के परिवहन के लिए आज नई दिल्ली में एनटीपीसी, इन्लैंड वॉटर अथॉरिटी ऑफ इंडिया (आईडब्ल्यूएआई) तथा जिन्दल आईटीएफ ने एक त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए। जिन्दल आईटीएफ का एक ऑपरेटर के रूप में चयन एनटीपीसी और आईडब्ल्यूएआई द्वारा एक अन्तर्राष्ट्रीय प्रतियोगी निविदा प्रक्रिया से किया गया है।

समझौते पर कार्यकारी निदेशक (फ्यूअल सिक्योरिटी), एनटीपीसी, श्री एस.एन. गोयल; सचिव, आईडब्ल्यूएआई श्री एस. के. शाही तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जेआईटीएफ श्री प्रबल घोष द्वारा आईसीडब्ल्यूएआई की अध्यक्षा श्रीमती भूपिन्दर प्रसाद; जेआईटीएफ के उपाध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री इन्द्रेश बतरा तथा श्री अरूप रॉय चौधरी व एनटीपीसी के निदेशकगण की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए।

परियोजना में पूर्वी किनारे पर स्थित हल्दिया बन्दरगाह पर गहरे समुद्र से एक ट्रांस-शिपर का प्रयोग किया जाएगा, जिसमें समुद्री जहाज़ों द्वारा कोयला उतारा जाएगा और वहाँ से उसका आगे एनटीपीसी फरक्का पावर स्टेशन तक नावों द्वारा परिवहन किया जाएगा। भारतीय बन्दरगाह क्षेत्र के मौजूदा दबाव को ध्यान में रखते हुए इस परियोजना से भारतीय जहाजरानी क्षेत्र में ड्राई बल्क कारगो के आयात में निश्चय ही एक परिवर्तनकारी मिसाल कायम होगी। हल्दिया और इलाहाबाद को जोड़ती इस परियोजना में नैशनल वॉटरवे नं. 1 के साथ-साथ भारत में नावों के सबसे बड़े बेड़े का संचालन शामिल है तथा इससे अन्तर्देशीय जलमार्ग़ों के उपयोग को बढ़ावा मिलेगा।

Tripartite Agreement for transportation of coal

भारत के पूर्वी तट से पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में फरक्का स्थित एनटीपीसी के 2100 मेगावाट विद्युत संयंत्र तक अन्तर्देशीय जलमार्ग़ों द्वारा कोयले के परिवहन के लिए आज नई दिल्ली में एनटीपीसी, इन्लैंड वॉटर अथॉरिटी ऑफ इंडिया (आईडब्ल्यूएआई) तथा जिन्दल आईटीएफ ने एक त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए। समझौते पर कार्यकारी निदेशक (फ्यूअल सिक्योरिटी), एनटीपीसी, श्री एस.एन. गोयल; सचिव, आईडब्ल्यूएआई ,श्री एस. के. शाही तथा मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जेआईटीएफ श्री प्रबल घोष द्वारा आईसीडब्ल्यूएआई की अध्यक्षा श्रीमती भूपिन्दर प्रसाद; जेआईटीएफ के उपाध्यक्ष एवं प्रबन्ध निदेशक श्री इन्द्रेश बतरा तथा श्री अरूप रॉय चौधरी व एनटीपीसी के निदेशकगण की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति