मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी ने भारत सरकार के साथ 2011-12 समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

25th मार्च, 2011

एनटीपीसी लि. और विद्युत मंत्रालय ने नई दिल्ली में वर्ष 2011-12 के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। इस समझौता ज्ञापन पर सचिव (विद्युत), श्री पी उमाशंकर और एनटीपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री अरूप रॉय चौधरी ने विद्युत मंत्रालय और एनटीपीसी लि. के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए।

समझौता ज्ञापन (2011-12) के अनुसार एनटीपीसी का लक्ष्य “उत्कृष्ट श्रेणी” के तहत 235000 मिलियन यूनिट (एमयू) विद्युत उत्पादन प्राप्त करना है। एनटीपीसी वर्ष के दौरान अपने तथा संयुक्त उद्यम परियोजनाओं से 4320 मेगावॉट का क्षमता वर्धन करने के लिए भी वचनबद्ध है। इसके अलावा समझौता ज्ञापन (2011-12) के भाग के रूप में अनुसंधान और विकास, मानव संसाधन विकास, नैगम सामाजिक दायित्व, नैगम शासन और स्थायी विकास के क्षेत्रों में भी कार्य किए जाने हैं।

एनटीपीसी अपने कोयला आधारित 15, गैस आधारित 7 और संयुक्त उद्यम विद्युत के 6 स्टेशनों के माध्यम से देश की विद्युत आवश्यकताओं को पूरा करने वाली सबसे बड़ी विद्युत युटिलिटी है। कंपनी को सरकार द्वारा पिछले वर्षों के दौरान असाधारण उपलब्धियों के लिए “महारत्न” का दर्जा देकर सम्मानित किया गया है। कंपनी के पास 33694 मेगावॉट की कुल संस्थापित क्षमता है।

GOI

एनटीपीसी लि. और विद्युत मंत्रालय ने नई दिल्ली में वर्ष 2011-12 के लिए समझौता ज्ञापन (एमओयू) समझौता ज्ञापन पर सचिव (विद्युत), श्री पी उमाशंकर और एनटीपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री अरूप रॉय चौधरी ने विद्युत मंत्रालय और एनटीपीसी लि. के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति