मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी ने अक्षय ऊर्जा के लिए एक संयुक्त उद्यम करार पर हस्ताक्षर किए

24th नवम्बर, 2010

तीन वर्ष की अवधि हेतु परियोजनाओं के विकास और स्थापना हेतु भारत में लगभग 500 मेगावॉट अक्षय विद्युत उत्पादन का पोर्टफोलियो बनाने के लिए एनटीपीसी लिमिटेड (एनटीपीसी), एशियन डैवलप्मैन्ट बैंक (एडीबी) और क्यूडेन इंटरनेशनल कॉर्पोरेशन (क्यूशू) ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में एक संयुक्त उद्यम कंपनी बनाने के उद्देश्य से 24.11.2010 को एक संयुक्त उद्यम करार पर हस्ताक्षर किए।

संयुक्त उद्यम कंपनी द्वारा वर्तमान में पवन विद्युत और लघु पनबिजली विद्युत परियोजनाओं का विकास किया जाएगा तथा यह भविष्य में अन्य अक्षय विद्युत उत्पादन संसाधनों का विकास भी कर सकती है। यह संयुक्त उद्यम कंपनी भारत के बाहर केवल विकासशील सदस्य देशों में भी परियोजनाओं का विकास कर सकती है।

एनटीपीसी, एडीबी और क्यूशू द्वारा कंपनी की इक्विटी शेयर पूंजी में 50:25:25 के अनुपात से योगदान किया जाएगा। कंपनी के आरंभिक अधिकृत शेयर की पूंजी 6.5 करोड़ रु. और भुगतानित शेयर पूंजी 1 करोड़ रु. होगी।

श्री ए के गुप्ता, महाप्रबंधक (व्यापार विकास), एनटीपीसी; श्री माइकल बैरो, निदेशक, अवसंरचना वित्त प्रभाग, एडीबी; श्री केंजी सुगामी, अध्यक्ष, क्यूडेन इंटरनेशनल कॉर्पोरेशन द्वारा श्री अरूप रॉय चौधरी, सीएमडी और एनटीपीसी के निदेशकों की उपस्थिति में संयुक्त उद्यम करार पर हस्ताक्षर किए गए।

वर्तमान में एनटीपीसी की संस्थापित क्षमता 32694 मेगावॉट से अधिक है। कंपनी देश भर में 28 विद्युत स्टेशनों का प्रचालन करती है, तथा 16000 मेगावॉट से अधिक क्षमता निर्माणाधीन है। एनटीपीसी की योजना वर्ष 2017 तक 75 गीगावॉट कंपनी बनने की है।

अक्षय ऊर्जा की अधिक हिस्सेदारी से एनटीपीसी को प्राकृतिक अधिवास संरक्षित रखते हुए विद्युत उत्पादन में वृद्धि के बीच बेहतर संतुलन में सहायता मिलेगी। एनटीपीसी का लक्ष्य मुख्यतः सौर, पवन, भूतापीय तथा लघु पनबिजली पर आधारित अक्षय ऊर्जा स्रोतों से कम से कम 1,000 मेगावॉट क्षमता विकास करने का है। कंपनी के बोर्ड ने भी 301 मेगावॉट सौर क्षमता की स्थापना का अनुमोदन किया है।

कंपनी द्वारा वर्ष 2032 तक गैर जीवाश्म स्रोतों के आधार पर कुल 1,28,000 मेगावॉट की उत्पादन क्षमता में 28 प्रतिशत हिस्सेदारी अंततः गैर जीवाश्म स्रोतों से लाने पर बल दिया जाएगा।

JV Agreement for Renewable Energy

तीन वर्ष की अवधि हेतु परियोजनाओं के विकास और स्थापना हेतु भारत में लगभग 500 मेगावॉट अक्षय विद्युत उत्पादन का पोर्टफोलियो बनाने के लिए एनटीपीसी लिमिटेड (एनटीपीसी), एशियन डैवलप्मैन्ट बैंक (एडीबी) और क्यूडेन इंटरनेशनल कॉर्पोरेशन (क्यूशू) ने राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में एक संयुक्त उद्यम कंपनी बनाने के उद्देश्य से आज एक संयुक्त उद्यम करार पर हस्ताक्षर किए। संयुक्त उद्यम करार पर श्री ए के गुप्ता, महाप्रबंधक (व्यापार विकास), एनटीपीसी; श्री माइकल बैरो, निदेशक, अवसंरचना वित्त प्रभाग, एडीबी; श्री केंजी सुगामी, अध्यक्ष, क्यूडेन इंटरनेशनल कॉर्पोरेशन द्वारा श्री अरूप रॉय चौधरी, सीएमडी की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए गए।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति