मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी का प्लैरट्स टॉप 250 वैश्विक कंपनी क्रमनिर्धारण अवॉर्ड में एशिया में स्थापन 1 आईपीपी तथा वैश्विक रूप से स्थादन 2 क्रम निर्धारण किया गया

18th नवम्बर, 2009

एनटीपीसी लि. को वर्ष 2009 के लिए एक प्लै ट्स टॉप 250 वैश्विक ऊर्जा कंपनी का नाम दिया गया है। एनटीपीसी लि. को प्लै ट्स जो प्रतिष्ठित एमसी ग्रॉ हिल कंपनियों का एक प्रभाग हैं, द्वारा एशिया में नंबर 1 स्वीतंत्र विद्युत उत्पा‍दक (आईपीपी) तथा एशिया की ऊर्जा कंपनियों में समग्र निष्पाशदन में नंबर 10 का क्रम निर्धारण प्रदान किया गया है। एनटीपीसी को वैश्विक रूप से नंबर 2 स्व तंत्र विद्युत उत्पासदक तथा ऊर्जा कंपनियों में समग्र वैश्विक निष्पा दन के लिए संख्याू 73 क्रम निर्धारित किया गया है।

यह अवॉर्ड 16 नवंबर 2009 को सिंगापुर में आयोजित प्लैरट्स टॉप 250 वैश्विक कंपनी दर निर्धारण अवॉर्ड समारोह में श्री ए. एन. मिश्रा, अपर महा प्रबंधक तथा अध्यलक्ष एवं प्रबंध निदेशक के एसटीए ने प्राप्ता किया ।

ये क्रम निर्धारण चार प्रमुख पैमानों पर आधारित हैं - आस्ति मूल्यै, राजस्वद, लाभ तथा निवेश पर प्रतिफल, वर्ष 2008-09 में, एनटीपीसी ने 206.9 बिलियन यूनिट अर्थात देश में उत्पा दित कुल विद्युत के 28.6 प्रतिशत का उत्पारदन किया। इसका राजस्वख 45,272 करोड़ रुपए (9.3 बिलियन अमेरिकी डॉलर) तथा निवल लाभ 8,201 करोड़ रुपए (1.7 बिलियन अमेरिकी डॉलर) का था, 31 मार्च 2009 की स्थिति के अनुसार, एनटीपीसी का आस्ति आधार 1,05,224 करोड़ रुपए (21.6 बिलियन अमेरिकी डॉलर) था । वर्ष 2009 में प्रकाशित विश्वा की सबसे बड़ी कंपनियों की फोर्बस वैश्विक सूची में इसका क्रम निर्धारण 317वां था ।

एनटीपीसी की 30, 644 मेगावॉट की वर्तमान संस्थाापित क्षमता देश की कुल संस्थािपित क्षमता का लगभग 20 प्रतिशत हैं । लगभग 18,000 मेगावॉट क्षमता निर्माणाधीन है तथा एक अन्या 30,000 मेगावॉट की योजना बनाई जा रही है ।

आरंभ से ही, एनटीपीसी का विश्वागस संवृद्धि की प्रक्रिया में स्थायनीय समुदाय के साथ भागीदारी करने का है । कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्वस एनटीपीसी के लिए विश्वा स की मद है । यह लोगों के जीवन में प्रवेश करने तथा सैंकड़ों हजारों मुस्का‍नों को बिखराने के लिए प्रतिबद्ध है ।

 
« पीछे प्रेस विज्ञप्ति