मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी का विद्युत उत्पाषदन में तिमाही-दर-तिमाही बेहतर निष्पा्दन, फिर भी निवल लाभ में गिरावट तकनीकी पैरामीटरों के नये टैरिफ विनियमन का असर

31st जुलाई, 2014

देश के सबसे बड़े विद्युत उत्पाादक – एनटीपीसी लिमिटेड ने वित्तीतय वर्ष 2014-15 के पहले तिमाही में उत्कृ ष्ट प्रचालनात्म क निष्पाीदन किया है। तिमाही का सकल उत्पाीदन, पूर्ववर्ती तदनुरूपी तिमाही के 57.005 बिलियन यूनिट से बढ़कर 63.133 बिलियन यूनिट हो गया है, जो 10.75 प्रतिशत तक की वृद्धि को दर्शाता है। एनटीपीसी लिमिटेड के कोयला स्टेसशनों ने 84.29 प्रतिशत की पीएलएफ को दर्ज किया, जो पूर्ववर्ती तदनुरूपी तिमाही में 5.17 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है। एनटीपीसी की संस्थाापित विद्युत उत्पातदन क्षमता 43128 मेगावाट हो।

वित्ती य वर्ष 2014-15 में कंपनी की पहली तिमाही में अलेखापरीक्षित कुल आय 18,885.14 करोड़ रुपए थी, जबकि पूर्ववर्ती वर्ष में तदनुरूपी तिमाही में 16,391.00 करोड़ रुपए दर्ज की थी, जो तिमाही-दर-तिमाही आधार पर 15.22 प्रतिशत की वृद्धि को दर्शाता है।

कंपनी ने वित्तीघय वर्ष 2014-15 के पहली तिमाही के लिए 2,201.20 करोड़ रुपए के कर पश्चाोत अलेखापरीक्षित लाभ की घोषणा की, जबकि पूर्ववर्ती वर्ष के तदनुरूपी तिमाही में यह लाभ 2,527.02 करोड़ रुपए घोषित था।

उत्कृतष्टक उत्पा दन वृद्धि प्राप्तक करने के बावजूद, लाभ में कमी आई है, जो टैरिफ विनियमन, 2014 को लागू करने के कारण है, जिसमें निवेश निर्णय बाद तकनीकी पैरामीटरों के पूर्वव्यारपी सुदृढ़ीकरण का प्रावधान है। टैरिफ विनियमन, 2014 के क्रियान्वकयन के कारण लगभग 53 प्रतिशत निर्वासित ऊर्जा का नकारात्मैक सहयोग है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति