मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी अब 30644 मेगावॉट कंपनी है

30th जून, 2009

बिहार राज्य में अवस्थित एनटीपीसी लिमिटेड की कहलगांव सुपर थर्मल विद्युत परियोजना - चरण II के 500 मेगावॉट यूनिट # 7 का सफलतापूर्वक सिंक्रोनाइजेशन किया गया है। इस यूनिट की कमीशनिंग के साथ, कहलगांव सुपर थर्मल विद्युत परियोजना की कमीशन की गई क्षमता अब 2340 मेगावॉट है तथा एनटीपीसी की कुल संस्थापपित क्षमता अब बढ़कर 30644 मेगावॉट हो गई है।

एनटीपीसी - कहलगांव के चरण I में 210 मेगावॉट प्रत्येएक के 4 यूनिट है तथा चरण II में 500 मेगावॉट प्रत्येीक के 3 यूनिट हैं। यह केंद्र पूर्वी, पूर्वोत्तर, उत्तरी तथा पश्चिमी क्षेत्रों को विद्युत की आपूर्ति करता है। केंद्र के लिए कोयले की प्राप्ति ईस्टहर्न कोल फील्ड्स लि. से होती है तथा जल का स्रोत गंगा है। सुरक्षा तथा पर्यावरण के क्षेत्रों में अनेक प्रतिष्ठित पुरस्कायर प्राप्त करनेवाली इस परियोजना ने एनटीपीसी केंद्रों में अपने लिए एक विशिष्टे बना लिया है।

एनटीपीसी 15 कोयला आधारित, 7 गैस आधारित तथा 4 संयुक्ती उद्यम विद्युत केंद्रों वाली भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पा5दन कंपनी है। अपनी संस्थारपित क्षमता के 18.79 प्रतिशत के साथ, एनटीपीसी देश के विद्युत उत्पाुदन के लगभग 28.60 प्रतिशत का योगदान करता है। यह कंपनी वर्ष 2012 तक 50,000 मेगावॉट कंपनी बनने के लिए तत्प र है।

एनटीपीसी अब 30644 मेगावॉट कंपनी है


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति