मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी द्वारा 11वीं योजना अवधि तक 13000 मेगावॉट का योगदान

07th नवम्बर, 2010

एनटीपीसी ने 2017 तक 75000 मेगावॉट कंपनी बनने की तैयारी कर ली है और कंपनी के पास इस पड़ाव की प्राप्ति की दक्षता है। कंपनी का लक्ष्य 11वीं योजना अवधि तक लगभग 13000 मेगावॉट की क्षमता उत्पादन द्वारा उस समय तक भारत सरकार की योजनाओं में 68000 मेगावॉट का योगदान देने का है। यह जानकारी 7 नवम्बर 2010 को 35वीं वर्षगांठ के अवसर पर कंपनी के कर्मचारियों को संबोधित करते हुए एनटीपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, श्री अरूप रॉय चौधरी ने दी।

श्री अरूप रॉय चौधरी ने आगे बताया कि एनटीपीसी प्रतिस्पर्द्धी भावना के साथ प्रशुल्क आधारित निविदाकरण करेगी। उन्होंने इसकी सभी निर्माण परियोजनाओं के समयबद्ध कार्यान्वयन का आश्वासन दिया और इसी के साथ ईंधन सुरक्षा के प्रति कर्मचारियों से उनके नवाचारी विचार प्रस्तुत करने के लिए कहा।

श्री रॉय चौधरी ने कहा कि एनटीपीसी के लक्ष्यों और उद्देश्यों के साथ प्रत्येक व्यक्ति की आकांक्षाओं को जोड़ते हुए परियोजना और विद्युत संयंत्र प्रबंधन के क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त की जायेगी।

अपने भाषण में अध्यक्ष महोदय ने व्यापार इकाइयों के प्रमुखों तथा क्षेत्रीय इकाइयों के प्रमुखों को अधिक अधिकारों के साथ सशक्त बनाने पर बल दिया। उन्होंने समाज के प्रति एनटीपीसी दल की अधिक वचनबद्धता और पुनर्वास तथा पुनःस्थापना, नैगम सामाजिक दायित्व को एक धर्म के रूप में अपनाने का आह्वान किया।

इस अवसर पर अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक महोदय ने दो पुस्तकें “क्वालिटी मैनेजमेंट इन सिविल इंजीनियरिंग” तथा एक अन्य “सिमुलेशन मैनुअल ऑफ 660 मेगावॉट यूनिट बेस्ड ऑन सुपर क्रिटिकल टेक्नोलॉजी” जारी की।

Contribute 13000 MW by XI Plan Period

श्री अरूप रॉय चौधरी, अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, एनटीपीसी, 35 वीं वर्षगांठ के अवसर पर कंपनी के कर्मचारियों को संबोधित करते हुए।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति