मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी के दूसरी तिमाही के निवल लाभ की तुलना में तीसरी तिमाही के निवल लाभ में 12.53% की वृद्धि

01st फ़रवरी, 2011

एनटीपीसी लिमिटेड जो भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादन कंपनी है और जिसके पास 33194 मेगावॉट की संस्थापित क्षमता है, ने वर्ष 2010-11 की तीसरी तिमाही के गैर लेखा परीक्षित वित्तीय परिणाम घोषित किए हैं। कर पश्चात गैर लेखा परीक्षित लाभ में बेहतर प्रचालन दक्षता और बढ़े हुए उत्पादन के कारण दूसरी तिमाही के कर पश्चात लाभ में सुधार दर्शाया गया है। कंपनी ने वर्तमान वित्तीय वर्ष की दूसरी तिमाही में घोषित 2,107.38 करोड़ रु. की तुलना में तीसरी तिमाही में 2,371.48 करोड़ रु. का गैर लेखा परीक्षित कर पश्चात लाभ घोषित किया है। गैर लेखा परीक्षित तीसरी तिमाही का कर पश्चात लाभ 2,371.48 करोड़ रु. पिछले वर्ष की संगत तिमाही में घोषित किए गए गैर लेखा परीक्षित 2,364.98 करोड़ रु. के कर पश्चात लाभ से अधिक है।

तीसरी तिमाही के लिए 14,165.90 करोड़ रु. की गैर लेखा परीक्षित कुल आय में पिछले वर्ष की संगत अवधि के दौरान रिपोर्ट की गई कुल 11,961.31 करोड़ रु. की आय से 18.43% की वृद्धि दर्ज की गई।

निदेशक मंडल ने वर्ष 2010.11 के लिए 31 जनवरी 2011 को आयोजित अपनी बैठक में प्रति इक्विटी शेयर 3 रु. की भुगतान की गई इक्विटी शेयर पूंजी का 30: अंतरिम लाभांश देने की सिफारिश की, जिसका भुगतान 14 फरवरी, 2011 को किया जाएगा।

एनटीपीसी वर्ष 2017 तक 75 गीगावॉट कंपनी बनने की ओर अग्रसर है जिसके लिए यह विद्युत क्रय करार पर हस्ताक्षर द्वारा रेग्युलेटिड टैरिफ रूट अपनाना चाहती है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति