मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

अपनी आत्मशक्ति, आचरण तथा परिश्रम से अपना लक्ष्य स्वयं निर्धारित करे - एनटीपीसी के सीएमडी का बी आई टी मेसरा के युवा इंजीनियरों को सम्बोधन ।

09th अप्रैल, 2014

"एनटीपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक डॉ. अरूप रॉय चौधरी ने आज रांची में बिड़ला इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी के दीक्षांत समारोह में युवा छात्रों को सम्बोधित करते हुए कहा कि वे अपनी पुरानी विरासत को पहचानें तथा अपने संस्थानों को अपने अर्जित ज्ञान व विशेषज्ञता को लौटाने के लिए तैयार रहे तथा उन सभी मार्गदर्शकों तथा पथप्रदर्शकों के ऋणी रहे, जिनके मार्गदर्शनों के फलस्वरूप आज के मुकाम पर है। डॉ. अरूप रॉय चौधरी ने कहा कि उन्हें अपने आपकी वास्तविकता के साथ मुकाबला करते हुए भविष्य में आगे बढ़ने के लिए कड़े परिश्रम, आचरण तथा अपनी आंतरिक शक्ति से अपनी नियति निर्धारित करनी है । आपने युवा प्रोफेशनल्स को सलाह दी कि वे भविष्य की चुनौतियों का सामना करे तथा उन पर विजय पाने के लिए तैयार रहे। आपने कहा कि जीवन के हर स्तर पर सीख मिलती है तथा उन सभी को जिन लोगो ने सफलता के मार्ग पर चलने का निश्चय किया है, अपेक्षाकृत उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए तैयार रहना चाहिए।

Convocation Ceremony

डॉ. रॉय चौधरी ने झारखण्ड के राज्यपाल तथा कुलाधिपति आदरणीय डॉ. सैय्यद अहमद तथा उपकुलपति डॉ. मनोज कुमार मिश्रा के प्रति युवा स्नातको से बातचीत का अवसर दिलाने के लिए आभार व्यक्त किया । आपने उन क्षणों का विशेष रूप से स्मरण किया जब उन्होंने 16 वर्ष की आयु में इंस्टिट्यूट में प्रवेश किया था तथा आज का यह क्षण सर्वाधिक भावनात्मक तथा संतोष का है जबकि वे मार्गदर्शक के रूप में यहाँ उपस्थित है। आपने अपने गुरूजी के इस मंत्र का कि "शुद्ध संकल्प ही सिद्ध " होता है का विशेष रूप से उल्लेख किया तथा इसके आशय को सपष्ट करते हुए कहा कि यदि आपका इरादा शुद्ध है तो जीवन में सफलता निश्चित है छात्रों के समूह से आपने कहा कि उन्होंने सदैव ही इस मंत्र को अपनाया है और हमेशा ही इसके सकारात्मक परिणाम मिलते है।

डॉ. राय चौधरी को 44 वर्ष की आयु में किसी केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम (सीपीएसई) के सबसे युवा कार्यपालक अधिकारी बनने का गौरव प्राप्त है। आपने वित्तीय रूप से रुग्ण एनबीसीसी के कायाकल्प तथा पुनरुद्धार के सफल गाथा तैयार की थी। कंपनी के कायाकल्प के फलस्वरूप ही उनके लिए अपने 91/2 वर्षों के कार्यकाल में एनबीसीसी के टर्नओवर को दस गुना बढ़ाने तथा नेट वर्थ को 500 गुना करना सम्भव हो सका है।

आपने हाल ही में 'मेनेजमेंट बाई इडियट्स' पुस्तक लिखी है जिसको बहुत सराहा गया है।

डॉ. रॉय चौधरी देश की अग्रणी व सबसे बड़ी विद्युत् उत्पादक कंपनी एनटीपीसी के प्रमुख है। विश्व की अग्रणी रैंकिंग कंपनी प्लाट्स ने टॉप ग्लोबल रैंकिंग 2013 में एनटीपीसी की गणना विश्व की नंबर 1 स्वतंत्र विद्युत् उत्पादक का दर्जा दिया है। एनटीपीसी की कुल स्थापित क्षमता 43,019 मेगावाट है। देश के कुल विद्युत् उत्पादन में एनटीपीसी का योगदान 27 प्रतिशत रहा है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति