मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

स्थायी वृद्धि के लिए आवश्यक है स्वच्छ ऊर्जा और पर्यावरण संरक्षण- श्रीमती सोनिया गांधी, अध्यक्ष, यूपीए द्वारा एनटीपीसी दादरी

09th सितम्बर, 2010

चरण-II राष्ट्र को समर्पित

आज नई दिल्ली में महारत्न एनटीपीसी की राष्ट्रीय राजधानी ताप विद्युत परियोजना दादरी चरण-II 980 मेगावॉट को राष्ट्र को समर्पित करते हुए श्रीमती सोनिया गांधी, अध्यक्ष, यूपीए ने कहा कि हमारी अर्थ व्यवस्था तेजी से आगे बढ़ रही है जहाँ अधिकांश लोग गाँवों में रहते हैं, हमारा प्रयास है कि समाज के सभी वर्गों को किफायती दरों पर बिजली उपलब्ध कराई जाए। श्रीमती गांधी ने कहा कि एनटीपीसी एक विश्व स्तरीय कम्पनी के रूप में उभरा है और यह गर्व का विषय है कि दादरी चरण-II को राष्ट्र मंडल खेलों की बिजली की आवश्यकता पूरी करने के लिए 39 माह के रिकॉर्ड समय में पूरा किया गया है। उन्होंने भविष्य के लिए तथा स्थायी वृद्धि के साथ पर्यावरण की सुरक्षा की जरूरत पर बल दिया। श्रीमती गांधी ने कहा कि भविष्य में एनटीपीसी की योजना ऊर्जा के न्यूक्लियर तथा अक्षय स्रोतों के माध्यम से अपनी संस्कृति में नवाचार लाने की है। उन्होंने एनटीपीसी के हरित प्रयासों की प्रशंसा की।

केन्द्रीय विद्युत मंत्री श्री सुशीलकुमार शिंद ने सार्वजनिक और निजी क्षेत्र की कंपनियों के सामूहिक प्रयासों द्वारा क्षमता वर्धन कार्यक्रम और ग्रामीण विद्युतीकरण के बारे में बताया। केन्द्रीय विद्युत राज्य मंत्री श्री भरत सिंह सोलंकी ने एनटीपीसी को इसकी कर गुजरने की भावना और विद्युत के क्षेत्र में भारत को आत्म-निर्भर बनाने की कार्यशैली के लिए बधाई दी। संसद सदस्य श्री अमबेथ रंजन और मोहम्मद अदीब भी इस अवसर पर उपस्थित थे। श्री पी उमा शंकर, सचिव, विद्युत और श्री अरूप रॉय चौधरी, सीएमडी भी इस अवसर पर बोले।

एनटीपीसी-दादरी परियोजना का चरण-II राष्ट्रमंडल खेलों की विद्युत आवश्यकताओं की पूर्ति करेगा। एनटीपीसी दादरी चरण-II से उत्पन्न बिजली की आपूर्ति भविष्य में दिल्ली और उत्तर प्रदेश में की जाएगी।

एनटीपीसी-दादरी देश की कोयला और गैस आधारित एकमात्रा ऐसी परियोजना है जिसकी कुल स्थापित क्षमता 2637 मेगावॉट है जिसमें पहले चरण में 840 मेगावॉट (210x4), दूसरे चरण में 980 मेगावॉट (490 मेगावॉट X 2) कोयला आधारित परियोजना तथा 817 मेगावॉट गैस स्टेशन हैं।

एनटीपीसी में कुल 32194 मेगावॉट की स्थापित क्षमता है और वर्तमान में 17 स्थानों पर 17,000 मेगावॉट से अधिक क्षमता निर्माणाधीन है। वर्ष 2017 तक एनटीपीसी की 75 गीगावॉट कंपनी बनने की योजना है।

स्थायी वृद्धि के लिए आवश्यक है स्वच्छ ऊर्जा और पर्यावरण संरक्षण- श्रीमती सोनिया गांधी, अध्यक्ष, यूपीए द्वारा एनटीपीसी दादरी

श्रीमती सोनिया गांधी, अध्यक्ष, यूपीए ने आज नई दिल्ली में महारत्न एनटीपीसी की राष्ट्रीय राजधानी ताप विद्युत परियोजना दादरी चरण-II 980 मेगावॉट को राष्ट्र को समर्पित की। केन्द्रीय विद्युत मंत्री श्री सुशीलकुमार शिंदे, केन्द्रीय विद्युत राज्य मंत्री श्री भरत सिंह सोलंकी, श्री पी उमा शंकर, सचिव, विद्युत और श्री अरूप रॉय चौधरी, सीएमडी भी इस अवसर पर उपस्थित हैं।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति