मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

सीईओ होने के नाते सभी के बारे में स्‍वार्थ रहित एवं विनम्र होना

01st सितम्बर, 2014

एनटीपीसी के सीएमडी डा. अरुप रॉय चौधरी ने हाल ही में कोलकाता में ''सीईओ होने के नाते'' पाठ्यक्रम के संबंध में इंडियन इंस्‍टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट कलकत्ता में कार्यपालकों के स्‍नात्तकोत्तर कार्यक्रम को संबोधित किया।

Arup Roy Choudhury

प्रस्‍तुतीकरण के माध्‍यम से कार्यपालकों को संबोधित करते हुए डॉ. रॉय चौधरी ने कहा कि सीईओ संगठन के लिए एक रोल मॉडल, एक जन्‍मदाता एवं एक निर्णायक होता है और इसलिए उसे स्‍वार्थहीन एवं विनम्र होना चाहिए। उन्‍होंने लोगों को कारपोरेट लक्ष्‍यों से अवगत कराते हुए उन्‍हें प्रेरित करने और हर समय व्‍यक्तिगत एवं व्‍यावसायिक संवीक्षा हेतु तैयार रहने की जरूरत पर जोर दिया। उन्‍होंने अपने स्‍वयं के व्‍यक्तिगत अनुभवों को साझा किया और बोले कि एक सफल सीईओ बनने के लिए निर्धारित नियम अथवा सिद्धान्‍त नहीं होते हैं। उन्‍होंने विद्यार्थियों को अपने स्‍वयं की सफलता के प्रबंधन सिद्धान्‍त तैयार करने को कहा। चर्चा आपसी बातचीत तक सीमित थी।

पाठ्यक्रम, सीईओ के नाते, सभी क्षेत्रकों के शीर्ष प्रबंधन कार्यपालकों के लिए सीईओ की भूमिका से संबद्ध चुनौतियों एवं उत्तरदायित्‍वों में व्‍यावहारिक पूरी जानकारी उपलब्‍ध कराने हेतु एक प्‍लेटफॉर्म तैयार करता है।

" ड. रॉय चौधरी द्वारा लिखी गई पुस्‍तक ''मैनेजमेंट बाई इडियट्स'' को भी इस अवसर पर प्रदर्शित किया गया था। इस पर विद्यार्थियों से उत्‍साही प्रतिक्रया प्राप्‍त हुई। मैक ग्रॉ-हिल द्वारा प्रकाशित इस पुस्‍तक की काफी सराहना हुई है और दूसरी बार पुन: मुद्रण में है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति