मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

माननीय प्रधानमंत्री द्वारा खाद संयंत्र के पुनरूद्धार की आधारशिला का अनावरण

22nd जुलाई, 2016

भारत में किसानों की समृद्धि के मार्ग को प्रशस्‍त्र करते हुए माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने देश की दो सबसे बड़े महारत्‍न सावर्जनिक संस्थानों- प्रमुख कोयला उत्‍पादक कोल इंडिया लि. (सीआईएल) तथा राष्‍ट्रीय विद्युत उत्‍पादक एनटीपीसी के संयुक्‍त उद्यम ‘हिंदुस्‍तान उर्वरक रसायन लि.’ द्वारा क्रियान्‍वित गैस आधारित गोरखपुर खाद संयंत्र के पुनरूद्धार के लिए 22 जुलाई, 2016 को गोरखपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में आधारशिला का अनावरण किया। इस संयंत्र के पुनरूद्धार में 6,000 करोड़ रूपए के निवेश की आवश्‍यकता होगी, जिसे दोनों ही सीपीएसई निकाय 50%-50% इक्‍विटी प्रणाली के माध्‍यम से करेगी।

आधारशिला के अनावरण के अवसर पर उत्‍तर प्रदेश के राज्‍यपाल श्री राम नाईक, रसायन और उर्वरक, संसदीय मामले के केंद्रीय मंत्री श्री अनंत कुमार, सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम के केंद्रीय कैबिनेट मंत्री श्री कलराज मिश्र, केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्री श्री जे.पी. नड्डा; विद्युत, कोयला, नवीन एवं नवीकरणीय उर्जा व खान राज्‍यमंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री पीयूष गोयल तथा स्‍वास्थ्य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय की राज्‍य मंत्री सुश्री अनुप्रिया पटेल, सांसद योगी आदित्‍यनाथ तथा अन्‍य गणमान्‍य लोग मौजूद रहे। इस अवसर पर एनटीपीसी के सीएमडी श्री गुरदीप सिंह, कोल इंडिया लि. के सीएमडी श्री एस भट्टाचार्य, हर्ल (HURL) के सीईओ श्री ए.के. गुप्‍ता मौजूद थे।

इस पहल से किसानों को समय पर यूरिया प्राप्‍त करने में मदद मिलेगी तथा देश विशेषकर पूर्वांचल की ग्रामीण प्रगति तथा समृद्धि की दृष्‍टि से एक नए युग की शुरूआत होगी। किसानों को सशक्‍त बनाने, कृषि में आय को बढाने तथा ग्रामीण विकास को गति देने की दिशा में यह कदम भारत सरकार की प्रतिबद्धता का हिस्‍सा है।

इन संयंत्रों के पुनरूद्धार से प्रत्‍येक संयंत्र से अन्‍य संबद्ध रसायनों के साथ-साथ प्रतिवर्ष 1.27 मिलियन टन यूरिया का उत्‍पादन होगा, जिससे यूरिया की मांग और आपूर्ति के अंतर को कम किया जा सकेगा। इससे दूसरा लाभ यह है कि इससे स्‍थानीय लोगों को रोजगार के अवसर प्राप्‍त होंगे। 

गेल द्वारा निर्माण के लिए प्रस्‍तावित जगदीशपुर-हल्‍दिया पाईप लाईन के माध्‍यम से गैस उपलब्‍ध कराई जाएगी।

इससे पूर्व 16 मई 2016 को कोल इंडिया (सीआइएल) तथा एनटीपीसी ने खाद संयंत्र के पुनरूद्धार के लिए संयुक्‍त उद्यम करार को औपचारिक स्वरुप प्रदान कर दिया था।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति