मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

पश्चिअम बंगाल के लिए विद्युत की कोई कमी नहीं

03rd अप्रैल, 2016

अंतरराष्ट्री य समझौते के अनुसार बंग्लािदेश के साथ जल बंटवारे के कारण फरक्काम फीडर नहर के जल स्तहर में कमी आई है। इसके परिणामस्व‍रूप एनटीपीसी को फरक्काक स्थि त अपने छह यूनिटों (2100 मे.वा.) मे से पांच यूनिटों (1600 मे.वा.) को अस्था‍यी रूप से बंद करने पर बाध्यो होना पड़ा है। इस समय 500 मे.वा. की एक यूनिट चल रही है। दिनांक 10 अप्रैल तक यह स्थि ति बने रहने की संभावना है। तथापि इन अवरोध के कारण पश्चिीम बंगाल में विद्युत की कोई कमी नहीं आएगी।

एनटीपीसी के विद्युत संयंत्रों से पश्चि‍म बंगाल को कुल आबंटन 786 मे.वा. का विद्युत का है, जिसकी पूरी आपूर्ति पूर्ति राज्यत द्वारा विद्युत की पुनर्मांग किए जाने पर एनटीपीसी के अपने विद्युत केंद्रों से की जा सकती है। वस्तुतत: फरक्कान एवं कहलगांव केंद्र पूर्ण रूप से नियत (शेड्यूल) नहीं होने के कारण आंशिक लोडिंग हो पा रही है। यदि राज्या को विद्युत की जरूरत होगी, तो एनटीपीसी पश्चि म बंगाल को अपने विद्युत से अधिशेष विद्युत आपूर्ति द्वारा इसके आबंटन से अधिक की विद्युत आपूर्ति कर सकता है। राज्यर ने बिहार राज्य के एनटीपीसी बाढ चरण-।। (2x660 मे.वा.) से अपने 199 मे.वा. विद्युत आबंटन को भी वापस सौंप दिया है।

संक्षेप में राज्यर की विद्युत संबंधी किसी प्रकार की जरूरत को पूरा करने के लिए एनटीपीसी के संयंत्रों पर्याप्तय विद्युत उपलब्ध है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति