मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी शोधित सीवेज वाटर उपयोग करेगी

14th जून, 2018

एनटीपीसी, भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादक कंपनी अपने दादरी पावर स्टेशन में शोधित सीवेज वाटर का उपयोग करेगी। यह विद्युत मंत्रालय द्वारा संशोधित टैरिफ नीति के अनुपालन में है जिसमें एसटीपी के 50 किलोमीटर की परिधि के भीतर स्थित थर्मल पावर प्लांट के लिए निगम निकाय के सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) से शोधित सीवेज वाटर का उपयोग करना अनिवार्य है।

अपने कॉर्पोरेट मूल्यों के एक भाग के रूप में एनटीपीसी का उद्देश्य अपने विद्युत स्टेशनों पर अपशिष्ट को कम करने और शोधित अपशिष्ट जल के उपयोग द्वारा संधारणीय पारिस्थितिकी संतुलन को सुनिश्चित करने के लिए अपशिष्ट जल का उपयोग करना है। एनटीपीसी ने पर्यावरण, नवीनतम प्रौद्योगिकी को अपनाने एवं निरंतर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में सक्रिय पहलें की हैं।

कम्पनी ने एनटीपीसी दादरी प्लांट को 80 एमएलडी शोधित सीवेज वाटर की आपूर्ति के लिए नोएडा में 14 जून, 2018 को नोएडा प्राधिकरण के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) हस्ताक्षरित किया है। परियोजना अगले तीन वर्षों में पूरी होने का अनुमान है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति