मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी ने 12वीं योजना के दौरान अब तक की सबसे अधिक क्षमता जोड़ी और एकदिवसीय सर्वाधिक विद्युत उत्पादन दर्ज किया

23rd मार्च, 2017

कर्नाटक के कुडगी 800 मेगावाट की यूनिट, बोंगाईगांव, असम में 250 मेगावाट यूनिट और भाडला सोलर, (राजस्थान) में 20 मेगावाट की कमीशनिंग के साथ, अब एनटीपीसी समूह की कुल संस्थापित क्षमता 49,943 मेगावाट हो गई है। 12वीं योजना में 11,920 मेगावाट क्षमता विस्तार लक्ष्य को पीछे छोड़ते हुए अब तक की सबसे अधिक क्षमता वृद्धि 12,840 मेगावाट दर्ज की है जो एनटीपीसी द्वारा किसी भी पंचवर्षीय योजना में सबसे अधिक है।

एनटीपीसी और एनटीपीसी समूह ने 22 मार्च 2017 को अब तक का सर्वाधिक दैनिक उत्पादन 784.74 मिलियन यूनिट एवं 870.11 मिलियन यूनिट हासिल किया है और इसके पूर्व 1 सितंबर, 2016 को एनटीपीसी ने 782.95 मिलियन यूनिट एवं 866.47 मिलियन यूनिट विद्युत उत्पादन का रिकार्ड बनाया था। एनटीपीसी के कोयला आधारित विद्युत संयंत्रों ने 22 मार्च, 2017 को अब तक का सबसे अधिक दैनिक उत्पादन 749.63 मिलियन यूनिट दर्ज किया है और 2016 में 742.51 मिलियन यूनिट पिछले रिकार्ड को पीछे छोड़ा है। एनटीपीसी (कोयला + गैस + हाइड्रो + सोलर) विद्युत संयंत्रों ने वित्त वर्ष 2016 में हासिल किए गए पिछले सर्वाधिक उत्पादन 241.976 बिलियन यूनिट की तुलना में वित्त वर्ष 2017 में अब तक का सबसे अधिक उत्पादन 243.326 बिलियन यूनिट के स्तर को पार किया है।

कोयला आधारित स्टेशनों से अधिक उत्पादन ग्रिड में बिजली की मांग में बढ़ोत्तरी को दर्शाता है।

एनटीपीसी के पास 19 कोयला आधारित, 7 गैस आधारित, 10 सोलर पीवी, एक हाइड्रो और 9 सहायक कंपनियां/संयुक्त उद्यम के विद्युत संयंत्रों की संस्थापित क्षमता 49943 मेगावाट है। कम्पनी के पास पूरे देश में 23 स्थानों पर संयुक्त उद्यमों एवं सहायक कंपनियों द्वारा निष्पादित की जा रहीं 4300 मेगावाट सहित 22,000 मेगावाट से अधिक क्षमता कार्यान्वयनाधीन है


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति