मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी ने विद्युत मंत्रालय के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए

28th मई, 2019

भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादक कंपनी एनटीपीसी ने वर्ष 2019-20 के लिए विद्युत मंत्रालय के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। एनटीपीसी ने पूंजीगत व्यय के लिए 20,000 करोड़ रुपये का पूंजीगत व्यय का लक्ष्य रखा है और उत्कृष्ट श्रेणी के तहत 310 अरब यूनिट (बीयू) विद्युत का उत्पादन किया है। निगम अपने पावरस्‍टेशनों के लिए ईंधन की आपूर्ति को बेहतर बनाने के लिए 10.4 मिलियन मीट्रिक टन कोयला उत्पादन भी सुनिश्चित करेगा।

एनटीपीसी लिमिटेड परिचालन दक्षता बढ़ाने की दिशा में प्रतिबद्ध है और साथ ही वर्ष 2019-20 में वित्तीय प्रदर्शन को मजबूत करने के उपायों को नियोजित करके अपने राजस्व में 12% की वृद्धि करने का लक्ष्य रखता है।

इस समझौता ज्ञापन पर एनटीपीसी लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक श्री गुरदीप सिंह और भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय के श्री सचिव अजय कुमार भल्ला ने एनटीपीसी और विद्युत मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए।

समझौता ज्ञापन के भाग के रूप में, कंपनी परिचालन दक्षता सुनिश्चित करेगी और सतत परियोजना निगरानी और अपने परियोजना स्थलों में मानव संसाधन प्रबंधन के अलावा केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम (सीपीएसई) कॉन्क्लेव के अनुरूप प्रासंगिक प्रौद्योगिकी मानदंडों का उन्नयन सुनिश्चित करने के उपायों को शामिल करेगी।

नवाचार और उत्‍साह से प्रेरित किफायती, कुशल और पर्यावरण के अनुकूल तरीके से विश्वसनीय विद्ययुत और संबंधित समाधान प्रदान करने के मिशन के साथ, एनटीपीसी भारत में विद्युत विकास को तेज करने की दिशा में लगातार काम कर रही है।

एनटीपीसी समूह ने 2018-19 के दौरान 305.90 बीयू की सकल उत्पादन दर्ज की, जबकि पिछले वर्ष 294.27 बीयू की तुलना में इसमें 3.95% की वृद्धि दर्ज की गई। एनटीपीसी की स्थापित क्षमता 55,125 मेगावाट है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति