मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी ने भारत के 'काम करने योग्‍य सर्वश्रेष्ठ स्थान' में से एक का दर्जा प्राप्‍त किया है -2019

01st जुलाई, 2019

  • 'सर्वश्रेष्ठ पीएसयू' कंपनी और '10,000 + कर्मचारियों की श्रेणी वाले संगठनों' में 'सर्वश्रेष्ठ' का दर्जा प्राप्‍त किया
  • 2019 के लिए भारत की 'ग्रेट प्लेस टू वर्क' सूची में 14वें स्थान पर है,
  • पिछले 11 वर्षों से लगातार सर्वाधिक प्रतिष्‍ठित कंपनी की सूची में स्‍थान प्राप्‍त किया है

भारत की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादन कंपनी एनटीपीसी को भारत के लिए 2019 की 'ग्रेट प्लेस टू वर्क' रैंकिंग में 14वे स्‍थान पर रखा गया है। इसके अलावा, संगठन को 2019 के लिए 10,000 से अधिक कर्मचारियों की श्रेणी वाले संगठनों में 'सर्वश्रेष्ठ पीएसयू' और 'सर्वश्रेष्ठ संगठन' भी नामित किया गया है। यह प्रतिष्‍ठित पुरस्कार एनटीपीसी के निदेशक (मानव संसाधन) श्री सप्तर्षि रॉय, और श्री आरईडी (पश्चिम-1) सी.के. मंडल, ने मुंबई में आयोजित एक समारोह में प्राप्‍त किया।

कंपनी के उच्च-विश्‍वास और श्रेष्‍ठ प्रदर्शन संस्कृति की साक्षी, भारत की सबसे बड़ी विद्युत उपयोगिता, एनटीपीसी ने न केवल सर्वश्रेष्ठ कंपनियों के पुरस्कार विजेताओं के रूप में लगातार 11वें वर्ष कंपनियों की इस प्रतिष्ठित सूची में स्‍थान प्राप्‍त किया है, बल्‍कि इसने पिछले वर्ष की अपनी रैंकिंग में 11 स्थानों का सुधार भी किया है।

इस सम्‍मान के संबंध में बोलते हुए एनटीपीसी के एक प्रवक्ता ने कहा, हम इस प्रतिष्ठित सम्‍मान को प्राप्त करके अत्‍यंत प्रसन्‍न और आाभारी हैं। हम ऐसी और भी उपलब्‍धियों को प्राप्‍त करने की दिशा में प्रयासरत रहेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि, एनटीपीसी में कर्मचारियों और सभी हितधारकों के साथ मिलकर काम करते हुए नवाचार का प्रदर्शन करना इसकी संस्‍कृति का आधार रहा है। लगातार 11वें वर्ष 'ग्रेट प्लेस टू वर्क' के रूप में सर्वश्रेष्ठ कंपनियों का पुरस्कार प्राप्‍त करना हमारे सभी भागीदारों के लिए एक आदर्श वातावरण सुनिश्चित करने की दिशा में हमारी प्रतिबद्धता को प्रतिबिंबित करता है।

'ग्रेट प्लेस टू वर्क' संस्थान की सूची उनके जनशक्‍ति प्रबंधन पद्धतियों के आधार पर श्रेष्‍ठ कार्यस्थलों को परिभाषित करने, मूल्यांकन करने और पहचानने के लिए स्वर्ण मानक प्रमाणन माना जाता है। कई प्रमुख कंपनियों और संगठनों को अपने कर्मचारियों के लिए निर्वाह, विकास, काम पर रखने और कार्य-जीवन के बीच संतुलन का वातावरण तैयार करने में सक्षम बनाने जैसे कई मापदंडों के आधार पर आंका और स्थान दिया गया है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति