मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी ने पी एम केयर फण्‍ड में 257.5 करोड़ रूपये का अंशदान दिया

02nd अप्रैल, 2020

नई दिल्‍ली, 2 अप्रैल, 2020 : भारत के सबसे बड़े विद्युत उत्‍पादक एनटीपीसी लि० ने कोविड-19 के विरूद्ध संघर्ष में सरकार की सहायता हेतु पीएम केयर फंड में 257.5 करोड़ का योगदान दिया है। जबकि 250 करोड़ रूपये कम्‍पनी द्वारा दिए गए हैं, एनटीपीसी के कर्मचारियों ने भी अपने एक दिन के वेतन के रूप में पीएम केयर फंड में 7.5 करोड़ रूपये का अंशदान दिया है।

एनटीपीसी विद्युत मंत्रालय के सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों की ओर से किए गए योगदान का हिस्‍सा बनकर सम्‍मानित महसूस करता है जो पीएम केयर्स फण्‍ड में 925 करोड़ रूपये का योगदान दे चुका है। इसके अतिरिक्‍त एनटीपीसी द्वारा आस-पास के लोगों के लिए जागरूकता और स्‍वास्‍थ्‍य शिविर लगाने के लिए 31 मार्च, 2020 की स्थिति के अनुसार विभिन्‍न स्‍थानों पर सुरक्षात्‍मक उपायों के संबंध में 11 करोड़ रूपये का व्‍यय किया जा रहा है।

एनटीपीसी ने वैश्विक महामारी से निपटने के लिए कवास (गुजरात), सोलापुर (महाराष्‍ट्र), अन्‍ता (राजस्‍थान), मौदा (महाराष्‍ट्र) और झानोर (गुजरात) के जिला प्रशासन हेतु भी 25 लाख रूपये का योगदान निश्चित किए हैं। इतना ही नहीं, एनटीपीसी गहन जागरूकता अभियान चलाने के लिए होर्डिंग, बैनर अपने प्रचालन क्षेत्रों में लगा रहा है और लोगों को लाउडस्‍पीकरों के माध्‍यम से घोषणा करके भी घर पर सुरक्षित रहने के लिए प्रोत्‍साहित किया जा रहा है। इसके अलावा, सुन्‍दरगढ (उड़ीसा) में 200 बिस्तरों वाले मेडिकल कालेज एवं अस्‍पताल की एक विंग को 30 मार्च, 2020 को जिला प्रशासन को सौंपा जा चुका है।

एनटीपीसी विभिन्‍न प्‍लांट लोकेशनों पर ठेका मजदूरों, कामगारों और स्‍थानीय लोगों के लिए सेनिटाइजर और साबुनों को वितरित करने सहित भोजन और चिकित्‍सा सुविधाओं की व्‍यवस्‍था कर चुका है। कामगारों के पारिवारिक सदस्‍यों के लिए अनेक स्‍थानों पर भोजन के पैकेट, दैनिक आवश्‍यकता का किराना, दूध और सब्जियों की आपूर्ति नियमित रूप से की जा रही है।

इसके अतिरिक्‍त एनटीपीसी ने वायरस के प्रसार को रोकने के लिए अनेक पहल की हैं और अपने अस्‍पतालों में समर्पित कोविड-19 यूनिटों की स्‍थापना की गई है। इसके लिए 140 बिस्‍तरों वाले 45 अस्‍पतालों/स्‍वास्‍थ्‍य इकाइयों का उपयोग आइसोलेशन सुविधाओं को तैयार करने में किया जा रहा है।

इसके साथ ही जिला प्रशासन के लिए हजारीबाग (झारखण्‍ड) में 8 वेंटिलेटर खरीदे जा रहे हैं| वर्तमान में परियोजना अस्‍पतालों में 7 वेंटिलेटर हैं इसके अलावा वेंटिलेटर युक्‍त 18 उन्‍नत स्‍तर की एम्‍बूलेंस हैं। विभिन्‍न अस्पतालों के लिए अतिरिक्त 10 वेंटिलेटर खरीदे जाने की प्रक्रिया में हैं। उपलब्‍ध एजेंसियों से अतिरिक्‍त पीपीई, सेनिटाईजर खरीदने का प्रयास किया जा रहा है।

एनटीपीसी टाउनशिपों के सभी प्रशिक्षित स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी देखभाल, रोकथाम एवं नियंत्रण (आईपीसी) दिशा निर्देशों का पालन कर रहे हैं और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) का उपयोग प्रशासन द्वारा जारी दिशानिर्देशों के अनुसार कर रहे हैं। कैंटीन अतिथीगृहों और भोज कक्षों में कार्यरत सभी सहयोगी कर्मियों की स्‍वास्‍थ्‍य जांच के लिए भी व्‍यवस्‍था की गई है।

एनटीपीसी के परिसर में प्रवेश करने वाले भेंट कर्ताओं और कर्मचारियों की जांच थर्मल स्‍कैनरों/स्‍क्रीनरों से करने के लिए भी सख्‍त व्‍यवस्‍था की गई है|

संयंत्र में कैंटीनों और भोज कक्षों में हा‍थ धोने की पर्याप्‍त सुविधाएँ और बार-बार स्‍पर्श किए जाने वाली सतहों की समूचित साफ-सफाई का प्रावधान किया गया है। इस प्रकार की वैश्‍विक महामारी वाली स्थिति में भी एनटीपीसी द्वारा लगातार विद्युत उत्‍पादन किया जा रहा है और इसे सुनिश्चित करने के लिए सभी पूर्वोपाय किए जा रहे हैं।

एनटीपीसी की कुल स्‍थापित क्षमता 62110 मेगावाट है। एनटीपीसी के 70 एनटीपीसी पावर स्‍टेशन हैं अर्थात् 24 कोयला आधारित 7 कमवाइंट साइकल गैस/तरल ईंधन, 1 जलविद्युत, 13 नवीकरणीय के साथ-साथ 25 संयुक्‍त उद्यम एवं सहायक कम्‍पनियों के स्‍टेशन अर्थात् 3 कोयला आधारित, 4 गैसतरल ईंधन, 8 जलविद्युत, 4 नवीकरणीय।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति