मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी ने टीएचडीसी इंडिया की इक्विटी की 74.496% हिस्सेदारी खरीदी है; निपको में 100% हिस्सेदारी खरीदी है

26th मार्च, 2020

एनटीपीसी लिमिटेड जो विद्युत मंत्रालय के अधीन एक 'महारत्न' केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम है, ने टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआईएल) में 74.496% इक्विटी हिस्सेदारी और पूर्वोत्तर क्षेत्र विद्युत निगम लिमिटेड (निपको) में 100% इक्विटी हिस्सेदारी प्राप्‍त करने के लिए भारत सरकार के साथ शेयर खरीद समझौता किया है।

एनटीपीसी 7,500 करोड़ रुपये (केवल सात हजार पांच सौ करोड़ रुपए) से टीएचडीसीआईएल में 2.73 करोड़ रुपये (शेयर पूंजी का 74.496% का प्रतिनिधित्व) के इक्विटी शेयरों का अधिग्रहण करेगा। भारत का सबसे बड़ा विद्युत उत्पादक 4,000 करोड़ (चार हजार करोड़ केवल रुपए) की राशि से निपको में 360.98 करोड़ रुपये के शेयर (शेयर पूंजी का 100% का प्रतिनिधित्व) की खरीद भी करेगा।

अधिग्रहण के पश्‍चात, टीएचडीसीआईएल और निपको, एनटीपीसी की सहायक कंपनियां बन जाएंगी।

टीएचडीसीआईएल के संबंध में- यह एक श्रेणी-I, अनुसूची-क, मिनीरत्न 'केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम’ है और भारत सरकार (74.496%) और उत्तर प्रदेश सरकार (25.504%) का संयुक्त उपक्रम है। यह मुख्य रूप से विद्युत उत्पादन परियोजनाओं (हाइड्रो, थर्मल और अन्य नवीकरणीय) की योजना, डिजाइन, निर्माण, प्रचालन और रखरखाव में लगा हुआ है। दिनांक 31 दिसंबर, 2019 तक टीएचडीसीआईएल की परिचालनरत विद्युत परियोजनाओं की कुल स्थापित क्षमता 1,513 मेगावाट थी जिसमें 2 हाइड्रो (1400 मेगावाट) और 2 पवन ऊर्जा उत्पादक संयंत्र (113 मेगावाट) शामिल थे। इसके अलावा, टीएचडीसीआईएल की परियोजनाएं निष्पादन के विभिन्न चरणों में है, जिनकी कुल क्षमता 2,838 मेगावाट है। वित्त वर्ष 2019 में इसकी नेटवर्थ, टर्नओवर और पीएटी क्रमशः लगभग 9,281 करोड़ रुपए, 2,850 करोड़ रुपए और 1,256 करोड़ रुपए थी।

निपको के संबंध में- यह एक श्रेणी-I, अनुसूची-क, 'मिनीरत्न' केंद्रीय सार्वजनिक उपक्रम है। कंपनी भारत के उत्तर पूर्वी क्षेत्र (एनईआर) में विद्युत स्टेशनों की योजना, डिजाइन, निर्माण, उत्‍पादन, प्रचालन और रखरखाव में शामिल है। दिनांक 31 दिसंबर, 2019 को निपको की परिचालनरत परियोजनाओं की कुल स्थापित क्षमता 1,457 मेगावाट थी जिसमें 7 हाइड्रो (925 मेगावाट), 3 गैस आधारित थर्मल (527 मेगावाट) और 1 सौर (5 मेगावाट) उत्पादक संयंत्र थे। इसके अलावा, शीघ्र ही 600 मेगावाट की एक और जल विद्युत क्षमता प्रारंभ होने की संभावना है। दिनांक 31 मार्च, 2019 तक इसका नेटवर्थ, टर्नओवर और पीएटी क्रमशः 6,301 करोड़, रुपए 2,108 करोड़ और रुपए 214 करोड़ रुपये था।

एसबीआई कैपिटल मार्केट्स लिमिटेड उपर्युक्त लेनदेन के लिए एनटीपीसी का लेनदेन सलाहकार था।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति