मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी द्वारा वृक्षारोपण अभियान में तेजी- वर्ष 2016-17 के दौरान 10 मिलियन वृक्षों का रोपण

29th अगस्त, 2016

एनटीपीसी ने विद्युत, कोयला, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा एवं खान राज्‍य मंत्री (स्‍वतंत्र प्रभार) श्री पीयूष गोयल के दिशानिर्देशों के अनुसार वर्ष 2016-17 के दौरान 10 मिलियन वृक्षों के रोपण के लिए मध्‍यप्रदेश, बिहार, असम, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना एवं महाराष्‍ट्र के वन विभागों के साथ सघन वृक्षारोपण प्रारंभ कर दिया है। यह वर्ष 2030 तक वनों तथा वृक्षों के कवर के जरिए सीओ 2 के 2.5 से 3 बिलियन टन के अतिरिक्‍त कार्बन सिंक के सृजन के लिए हाल ही में घोषित इंटेंडिड नेशनली डिटरमाइंड कंट्रिब्‍यूशन (आइएनडीसी-2030) के अनुरूप है। चालू वर्ष में 10 मिलियन वृक्ष लगाने के अलावा एनटीपीसी की योजना अगले दस वर्षों में देश भर में 10 मिलियन वृक्ष लगाकर अतिरिक्‍त सिंक तैयार करने की है।

एनटीपीसी ने तीव्र वृक्षारोपण के लिए मध्‍यप्रदेश, बिहार, असम तथा कर्नाटक राज्‍यों के वन विभागों के साथ एमओयू (समझौता ज्ञापन) पर पहले ही हस्‍ताक्षर कर दिए हैं तथा अन्‍य राज्‍यों के साथ इस पर शीघ्र हस्‍ताक्षर हो जाने की आशा है।

एमओयू के अनुसार संबंधित एजेंसियां विभिन्‍न वृक्षों, बांस या कार्बन को अवशोषित करने में सक्षम अन्‍य स्‍थानीय प्रजातियों के पेड़ों को लगाएगा। एनटीपीसी इन वृक्षों के रोपण तथा इसके पश्‍चात पांच वर्षों तक इनके रखरखाव में मदद देगा।

राज्‍य के वन विभाग के माध्‍यम से 5,32,950 वृक्ष लगाने के लिए 27 अगस्‍त 2016 को बंगलूरू में कर्नाटक सरकार के वन विभाग के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्‍ताक्षर किए गए। एनटीपीसी-कुड्गी के ग्रुप जनरल मैनेजर श्री हरबंस सिंह की मौजूदगी में इस एमओयू पर एडिशनल प्रिंसिपल चीफ कंजर्वेटर ऑफ फॉरेस्‍ट श्री ए.के. गर्ग तथा बंगलूरू स्‍थित एनटीपीसी के जीएम (पीईएंडएम) श्री अविनाश सारस्‍वत ने हस्‍ताक्षर किए। 


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति