मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक द्वारा गुवाहाटी में 30वीं भारतीय अभियांत्रिकी कांग्रेस को संबोधन

21st दिसम्बर, 2015

गुवाहाटी में आयोजित 30 वीं भारतीय अभियांत्रिकी कांग्रेस (आईईसी) को संबोधित करते हुए देश की सबसे बड़ी विद्युत कंपनी एनटीपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री ए.के. झा ने कहा कि 21 वीं सदी की इंजीनियरिंग पृथ्वी और यहां के लोगों के पर्यावरणीय और सामाजिक दीर्घ स्थायित्वी के बारे में होगी। जैसा कि भारत ''मेक इन इंडिया'' जैसी प्रमुख नीतिगत पहलों के जरिए आर्थिक विकास के महामार्ग पर कदम बढ़ाने जा रहा है इसलिए देश को यह विशाल कदम आगे बढ़ाने में सक्षम बनाने की जिम्मेदारी मुख्य रूप से इंजीनियरिंग समुदाय पर है। उन्होंने कहा कि विद्युत क्षेत्र के सामने एक बड़ी चुनौती कार्बन की तीव्रता को कम करने के लिए उन्नत प्रौद्योगिकियों का उपयोग करना और साथ ही किफायती दरों पर विद्युत उपलब्ध कराना है। आप पांचवा प्रो. सी.एस. झा स्मारक में व्याख्याहन दे रहे थे।

इस महाधिवेशन का विषय ''21वीं सदी की अभियांत्रिकी-मेक इन इंडिया मार्ग'' था जिससे कि यह देश के लिए विश्वस्तरीय प्रक्रियाओं, उत्पाकदों और सेवाओं का तरजीही स्रोत बन सके।

इस तीन दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन इंस्टींट्यूट ऑफ इंजीनियर्स (आईईआई) द्वारा किया गया जो कि इंजीनियरों का सबसे बड़ा बहु-अनुशासकीय निकाय है।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति