मीडिया

प्रेस विज्ञप्ति

एनटीपीसी, एनएसडीएफ एवं एनएसडीसी, कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय, भारत सरकार के मध्य समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित

08th मई, 2015

MoU signed between NTPC, NSDF and NSDC

भारत की सबसे बड़ी विद्युत उपयोगिता एनटीपीसी लिमिटेड ने विभिन्न कौशल विकास कार्यक्रमों के लिए कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय (एनएसडीएफ - राष्ट्रीय कौशल विकास निधि) और राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) के साथ समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया है तथा अपने सीएसआर कोष से वर्ष 2015-16 और 2016-17 के लिए रु. 6.50 करोड़ आबंटित किए हैं। ये कौशल विकास परियोजनाएं पूर्वोंत्तर राज्यों/देश के उन भागो जहां एनटीपीसी विद्युत संयंत्र स्थित हैं, को ध्यान में रखते हुए 22 स्थानों पर निष्पादित की जाएंगी। विभिन्न कौशल विकास कार्यक्रमों के तहत 5000 युवाओं को प्रशिक्षित किया जाएगा।

श्री पवन अग्रवाल, आईएएस, संयुक्त सचिव, कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय, भारत सरकार (एनएसडीसी), श्री यू. पी. पाणि, निदेशक (मा. सं.), एनटीपीसी और श्री दिलीप एच. चैनाय, एमडी एवं सीईओ, एनएसडीसी द्वारा त्रिस्तरीय समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया गया।

ये कार्यक्रम उद्योग की रोजगार संबंधी आवश्यकताओं से जुड़ें है तथा एनएसडीसी या इसके प्रशिक्षण प्रदाताओं जैसे कौशल विकास भागीदारो के माध्यम से उद्यमिता को प्रोत्साहित करते हैं। एनटीपीसी समझौता ज्ञापन के प्रावधानों के अनुरूप एनएसडीएफ (राष्ट्रीय कौशल विकास कोष) को निधि उपलब्ध करायेगा तथा एनएसडीसी अपने प्रशिक्षण भागीदारों द्वारा किए गए बेसलाइन सर्वेक्षण एवं कौशल रहित जनसंख्या विश्लेषण के आधार पर चयनित क्षेत्रों में कार्यान्वयन इकाई के तौर पर कौशल विकास कार्यक्रमों को सम्पादित करेगी।

इस अवसर पर श्री एन. के. सुधांशु, आईएएस, श्री उज्जवल बनर्जी, महाप्रबंधक (मा. सं. - पीएमआई), एनटीपीसी, श्री अशोक चक्रवर्ती, अपर महाप्रबंधक (सीसी-सीएसआर), श्री अजय शुक्ला, अपर महाप्रबंधक (पीएमआई), श्री महेश वेंकटेश्वरन (एनएसडीसी) और कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय, एनटीपीसी एवं एनएसडीसी के अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।


« पीछे प्रेस विज्ञप्ति