हमारे साथ भावी संभावनाएं

भर्ती

एनटीपीसी "अपना विकास स्वयं करो " के दर्शन में विश्वास करता है । हम कैम्पसों से नए व्यक्तियों का चयन करते हैं और उनका विकास चहुंमुखी विद्युत प्रोफेशनलों के रूप में करते हैं । एनटीपीसी की "कार्यपालक प्रशिक्षार्थी " स्कीम वर्ष 1977 में स्वदेश में विकसित प्रोफेशनलों का संवर्ग तैयार करने के उद्देश्य से शुरू की गई थी । प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण स्नातक इंजीनियर/स्नातकोत्तर इंजीनियर राष्ट्र व्यापी खुली प्रतियोगिता परीक्षा और कैम्पस भर्ती के माध्यम से चुने जाते हैं । चयन के उपरांत सैद्धांतिक प्रशिक्षण, ऑन जॉब प्रशिक्षण, व्यक्तित्व विकास एवं प्रबंध मॉडय़ूल सहित 52 सप्ताह का प्रवेश प्रशिक्षण (पूरा वेतन देकर) दिया जाता है ।

  • थिएटर वर्कशॉप - कार्यपालक प्रशिक्षार्थियों के लिए कार्योन्मुखी प्रशिक्षण में थिएटर वर्कशाप जैसे कई विलंक्षण अभ्यास शामिल है । इसके अंतर्गत राष्ट्रीय नाटय़ विद्यालय जैसी व्यावसायिक संस्थाओं से सहयोग से आयोजित कार्यक्रमों में उनके मौखिक एवं अमौखिक संप्रेषण कौशल, टीम वर्क आंगिक भाषा (बॉडी लैंग्वेज), अभिव्यक्ति कौशल आदि का उन्नयन किया जाता है ।
  • योग- प्रशिक्षार्थियों के समग्र विकास के लिए उनके शारीरिक स्वास्थ्य एवं मानसिक सजगता का ध्यान रखना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कौशल प्रशिक्षण । योग एवं ध्यान हमारे कार्यपालक प्रशिक्षार्थियों के लिए कार्योन्मुखी प्रशिक्षण कार्यक्रम का हिस्सा है । प्रशिक्षण अवधि में प्रतिदिन प्रातःकाल योग सत्र आयोजित किए जाते हैं ।
  • कारपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व - हमारे सामाजिक उत्तरदायित्व अभियान के रूप में नई भर्ती करने के लिए परियोजना प्रभावित व्यक्तियों के प्रति उत्तरदायित्व और ऑन फील्ड सामुदायिक विकास को महत्व दिया जाता है । कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व संबंधी विशेष मॉडय़ूल कार्योन्मुखी प्रशिक्षण का हिस्सा है जिसके अंतर्गत पर्यावरण, सुरक्षा, स्वास्थ्य संबंधी खतरे, पर्यावरण प्रभाव, राख का उपयोग आदि जैसे कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के महत्वपूर्ण पक्ष आते हैं । 
  • प्रशिक्षक "अंकुर " - प्रभावी समाजीकरण के लिए और प्रशिक्षण मोड से लेकर उत्तरदायित्व संभालने की कार्यपालक क्षमता विकसित करने तक कार्यपालक प्रशिक्षार्थियों को जॉब पर रखते ही प्रशिक्षकों के साथ संबद्ध कर दिया जाता है । ये प्रशिक्षक एनटीपीसी में 10-15 वर्षों का अनुभव प्राप्त वरिष्ठ कार्यपालक होते है जो विद्युत व्यवसाय के विकास में मित्र, दार्शनिक एवं निर्देशक के रूप में कार्य करते हैं ।
  • खेलकूद - प्रशिक्षार्थियों को शारीरिक रूप से सक्रिय एवं चुस्त रखने के लिए खेलकूद गतिविधियों पर जोर दिया जाता है । एनटीपीसी के प्रत्येक स्टेशन पर खेलकूद की बुनियादी सुविधाएं उपलब्घ कराई गई है और समय-समय पर अंतर/अंतरा यूनिट खेल आयोजित किए जाते हैं ।