हमारे विषय में

भावी क्षमता वर्धन

एनटीपीसी ने दीर्घकालिक कॉर्पोरेट योजना के तहत वर्ष 2032 तक 130 गीगावाट कंपनी बनने की योजना बनाई है। वर्तमान कार्यान्वयन के तहत क्षमता वर्धन:
Future plants
 

क्र.सं.मध्य प्रदेशराज्यमेगावाट
एनटीपीसी
1.बाढ़-Iबिहार1980
2.तपोवन विष्णुगढ़उत्तराखंड520
5.लता तपोवनउत्तराखंड171
6.लाराछत्तीसगढ़800
7.गाडरवारामध्य प्रदेश800
8.दर्लीपलीओडिशा1600
9.नॉर्थ करनपुराझारखण्ड1980
10.राममम-हाइड्रो पश्चिम बंगाल120
11.टांडा-IIउत्तर प्रदेश660
12.खरगोनमध्य प्रदेश660
13.तेलंगानातेलंगाना1600
Total10,891
जे वी एवं उप. कम्पनियाँं
1.मेजाउत्तर प्रदेश660
2.नबीनगर, बीआरबीसीएलबिहार250
3.नबीनगर -बीएसईबीबिहार1320
4.राउरकेला-एनएसपीसीएलओडिशा250
5.दुर्गापुर-एनएसपीसीएलपश्चिम बंगाल40
6.बीीफपसलखुलना1320
7.पतरातूझारखंड4000
कुल7,840
(एनटीपीसी + जे वी एवं उप. कम्पनियाँ)18,731